शुक्रवार, 1 मार्च 2013

इस्लामी वयस्क परीक्षण !


जिस समय टी .वी . के सभी चैनलों पर बजट सम्बन्धी चर्चा खबरें आ रही थीं , उसी समय बीच में 16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में चलती बस में एक 23 साल की लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले में छठवें आरोपी के खिलाफ किशोर न्याय बोर्ड ने गुरुवार आरोप तय करने का आदेश दे दिया .चूँकि यह घटना इतनी ह्रदय विदारक थी कि सारा भारत उन सभी नरराक्षसों को मौत की सजा देने की मांग कर रहा था .यद्यपि इस अपराध के लिए सभी अभियुक्त सामान रूप से दोषी हैं , लेकिन सरकार ने उनके नाम छुपा रखे थे , इन सभी पापियों ने जो दुष्कृत्य किया था , उसे देख कर हमने पहले ही लिख दिया था कि इतना नीच काम कोई मुसलमान ही कर सकता है , और बाद में यह बात सही निकली .क्योंकि अदालत ने छटवें आरोपी पर जितने भी अभियोग लगाये हैं , सभी काम मुहम्मद की सुन्नत है ,जिसे मुसलमान अपराध नहीं मानते ,
अब मुसलमान उस उस दुष्ट को नाबालिग साबित करने के लिए तरकीबें निकाल रहे हैं , ताकि उसे मौत की सजा से बचाया जा सके .यद्यपि इस बात में कोई शंका नहीं है कि सभी अपराधों की प्रेरणा इस्लामी तालीम से मिलती है , लेकिन आप किसी भी मुल्ले मौलवी से यह बात कहेंगे तो वह यही उत्तर देगा कि इस्लाम तो सदाचार , संयम , और परहेजगारी की तालीम देता है . इस्लाम में बलात्कार को गुनाह माना जाता है , इत्यादी ,
चूंकि मुख्य मुद्दा बलात्कार और छठवें मुस्लिम आरोपी के नाबालिग होने का है ,इसलिए इस्लामी सदाचार का पाखंड और असलियत के साथ इस्लाम के अनुसार बालिग (Adult )होने की जाँच कैसे होती है , इसका तरीका इस लेख में दिया जा रहा है ,
1-इस्लाम का ढोंगी सदाचार 
इस्लाम से पहले अरब के कुछ भाग में ईसाई धर्म का प्रभाव था . और कई ईसाई साधू ऐसे भी होते थे ,जो संयम का पालन करते हुए जीवन व्यतीत करते थे . मुहम्मद का गुरु और खदीजा का चचेरा भाई वरका बिन नौफल भी एक ब्रह्मचारी था . शायद उसी से प्रेरित कर मुहम्मद ने यह आयत कुरान में जोड़ी होगी , जिसमे मुसलमानों को यह उपदेश दिया गया है ,
"और जिन्हें विवाह करने का अवसर प्राप्त न हो ,उन्हें चाहिए कि वे तब तक संयम का पालन करें ,जब तक अल्लाह उन्हें अनुग्रह से संपन्न कर दे " सूरा -अन नूर 24:33

(let those who cannot find a match keep chaste till Allah give them independence by His grace. 24:33)

( इस आयत में संयमी के लिए अरबी में "अफीफ عفيف    " शब्द दिया गया है ,जिसका अंगरेजी में अर्थ "Chaste " होता है .दुसरे शब्दों को ऐसे लोगों को ब्रह्मचारी , अरबी में " ताहिरطاهر  "और अंगरेजी में पवित्र और संतpure-saintly"भी कह सकते हैं )लेकिन इस आयात को पढ़कर यह नहीं समझना चाहिए कि कुरान कुंवारे लोगों को संयम और कामवासना से बचने की शिक्षा देता है .बल्कि कुरान मुस्लिम युवकों को लडाकियों को पकड़ कर उन से बलात्कार करने की प्रेरणा देता है , जैसा कि इन आयतों के कहा गया है ,
 2-औरतें पकड़ो बलात्कार करो 
औरतें और अय्याशी इस्लाम के असली आधार है , इतिहास साक्षी है . कि मुहम्मद के साथी जिहादी सबसे पहले औरतें ही लूटते थे . यही नहीं हर मुसलमान मरने के बाद जन्नत में औरतें ही चाहता है .चूँकि भारत में जिहाद नहीं हो सकती ,इसलिए मुसलमान किसी अकेली लड़की को पकड़ लेते हैं . और बलात्कार कर देते हैं ,क्योंकि कुरान पकड़ी गयी औरत से सहवास करने की आज्ञा देता है , कुरान में कहा है ,
"अपनी पत्नियों के उन लौंडियों के साथ सम्भोग करना कुछ भी निंदनीय नहीं है ,जो तुम्हारे हाथों पकड़ी जाएँ "सूरा -अल -मआरिज 70:30
(Captives    your right hand  posess)
"अपनी पत्नियों के अलावा उन लौंडियों के साथ ,जो उनके कब्जे में हों ,सहवास करना निंदनीय नहीं है "सूरा -अल मोमिनून 23:6
"हमने तुम्हारी लौंडियाँ हलाल कर दी हैं ,जो अल्लाह ने तुम्हें माले गनीमत में दी हैं " सूरा -अहजाब 33:50
"पत्नियों के सिवाय तुम्हारे लिए तुम्हारी लौंडियाँ भी हलाल हैं ,अल्लाह सब चीज की खबर रखने वाला है " सूरा -अह्जाब 33:52
इस्लामी परिभाषा में हर प्रकार से हथियाई गयी , पकड़ी गयी , अगवा की गयी हो या खरीदी हुई सभी के लिए अरबी में एक ही शब्द "السرية " है .और ऐसी औरत की इच्छा के विरुद्ध सम्भोग करना इस्लाम में अपराध नहीं माना जाता है .(Islam allows a man to have intercourse with  capt  woman, whether he has a wife or wives or he is not married. A Captiive woman with whom a man has intercourse is known as a sariyyah )

लेकिन मुहम्मद ने ऐसे सहवास को बलात्कार नहीं कहते हुए अरबी में "मलिकत ईमानुकुम ملكت ايمانكم" और " मलिकत यमीनुकुम ملكت يمينكم" शब्द का प्रयोग किया है .और पकड़ी गयी औरत को रखैली माना है .जिनके साथ बलपूर्वक सहवास करना मुसलमानों का अधिकार है .देखिये विडिओ
Sex allowed with Slave Women in Islam_ Dr Zakir Naik.flv

http://www.youtube.com/watch?v=Bj74kfA5UQY

यही बात हदीस में भी कही है , सही मुस्लिम -किताब 8 हदीस 3432 
3-वयस्क की परिभाषा 
इस्लाम के अनुसार 15 साल की आयु होने पर लडके और लड़की को वयस्क माना जाता है .इस आयु को " बुलूग بُلوغ‎)" और ,आयु पूरा करने वाले को " बालिग  بالغ " कहा जाता है .इतनी आयु के लोग वयस्क ( Adult ) इसलिए माने जाते हैं , क्योंकि वह जिहाद के लिए उपयोगी होते हैं .
लड़का बालिग तब माना जाता है जब उसके श्रोणी के बाल निकलने लगें(grows pubic hair) , या शिश्न से वीर्य निकलने लगे .(has a nocturnal emission) और लड़की तब बालिग मानी जाती है जब उसका मासिक स्राव निकलने लगे .(when she  menstruates)यही बात फतवे में दी गयी है ,

Once you get semen you are baaaligh

"تحصل مرة واحدة السائل المنوي كنت الكبار  "

http://en.allexperts.com/q/Islam-947/2010/4/Adult-age.htm

4-वयस्कता का परीक्षण 
आज अदालत दिल्ली बलात्कार काण्ड छठवें (मुस्लिम)आरोपी के वयस्क होने का पता करने के लिए हाथ पैर मार रही है , कभी उसका जन्म प्रमाणपत्र खोज रही है कभी किशोर न्यालालय के आदेशानुसार धारा 3 के अधीन अभियुक्त की bone-ossification testकरवा रही है , लेकिन मार्च सन 627 में ही मुहम्मद ने एक ऐसी विधि खोज ली थी , जिस से मूर्ख व्यक्ति भी पता कर लेगा कि अभियुक्त बालिग है , अथवा नहीं .यह विधि हदीस में आज भी मौजूद है .इस हदीस के पीछे एक ऐतिहासिक घटना है .घटना इस प्रकार है , कि मदीना के पास "बनी कुरैजा " नामका एक यहूदी कबीला रहता था .मार्च सन 627 को मुहम्मद ने अपने जिहादियों के साथ उस कबीले पर अचानक धावा बोल दिया था जिसमे करीब 900 लोगों के सर काट कर हत्या कर दी गयी थी .मुहम्मद का आदेश था कि सभी बालिग पुरुषों को मार दिया जाये . और औरतों से बलात्कार करके उनको लौंडी बना लिया जाये .हदीस कहती है ,
1."कसीर इब्न अस्सायब ने कहा कि रसूल ने हम लोगों से कहा जाओ सभी बालिग़ मर्दों को मार डालो .पता करो जिन के नीचे के बाल दिखायी दें वह बालिग़ हैं , उन्हें क़त्ल कर दो . और जिनके नीचे के बाल नहीं निकले वह नाबालिग है , उनको जिन्दा छोड़ दो "

أَخْبَرَنَا الرَّبِيعُ بْنُ سُلَيْمَانَ، قَالَ حَدَّثَنَا أَسَدُ بْنُ مُوسَى، قَالَ حَدَّثَنَا حَمَّادُ بْنُ سَلَمَةَ، عَنْ أَبِي جَعْفَرٍ الْخَطْمِيِّ، عَنْ عُمَارَةَ بْنِ خُزَيْمَةَ، عَنْ كَثِيرِ بْنِ السَّائِبِ، قَالَ حَدَّثَنِي أَبْنَاءُ، قُرَيْظَةَ أَنَّهُمْ عُرِضُوا عَلَى رَسُولِ اللَّهِ صلى الله عليه وسلم يَوْمَ قُرَيْظَةَ فَمَنْ كَانَ مُحْتَلِمًا أَوْ نَبَتَتْ عَانَتُهُ قُتِلَ وَمَنْ لَمْ يَكُنْ مُحْتَلِمًا أَوْ لَمْ تَنْبُتْ عَانَتُهُ تُرِكَ ‏.‏

Sunan an-Nasa'i-Vol. 4, Book 27, Hadith 3459

2-"अतिय्या ने कहा कि बनू कुरैजा के जनसंहार के समय मैं मौजूद थे . लेकिन उस समय मेरे नीचे के बाल नहीं निकले थे . इसलिए मुझे नाबालिग मान कर जिन्दा छोड़ दिया गया था "

أَخْبَرَنَا مُحَمَّدُ بْنُ مَنْصُورٍ، قَالَ حَدَّثَنَا سُفْيَانُ، عَنْ عَبْدِ الْمَلِكِ بْنِ عُمَيْرٍ، عَنْ عَطِيَّةَ الْقُرَظِيِّ، قَالَ كُنْتُ يَوْمَ حُكْمِ سَعْدٍ فِي بَنِي قُرَيْظَةَ غُلاَمًا فَشَكُّوا فِيَّ فَلَمْ يَجِدُونِي أَنْبَتُّ فَاسْتُبْقِيتُ فَهَا أَنَا ذَا بَيْنَ أَظْهُرِكُمْ ‏.‏  "
Sunan an-Nasa'i-Vol. 4, Book 27, Hadith 3460

5-छठवें अभियुक्त के अपराध 

भले सेकुलर और मुसलमान उस छठवें अपराधी मुसलमान को बालिग नहीं मानें . लेकिन उसने जो जघन्य काम किये हैं उसके आगे मुहम्मद भी नाबालिग लगेगा .क्योंकि .. प्रमुख मजिस्ट्रेट गीतांजलि गोयल ने उस पर , गैंग रेप ,हत्या ,अपहरण , आप्रक्रतिक यौनाचार ,हत्या का प्रयास ,डकैती , सबूतों को नष्ट करने का प्रयास जैसे गंभीर आरोप लगाये हैं .यही नहीं एक सब्जी विक्रेता को लूटने के मामले में उस पर लूटपाट का मामला भी चल रहा है .
हमें पूरा विश्वास है , यदि अदालत मुहम्मद की हदीस का पालन कर के छठवे आरोपी को बालिग़ मान लेती है , तो मुल्लों की हालत सांप छछूंदर जैसी हो जाएगी .

http://www.thereligionofpeace.com/muhammad/myths-mu-rape.htm

21 टिप्‍पणियां:

  1. इस "नाबालिग" की आयु के निर्धारण हेतु मेडिकल नहीं किया गया. इस तरह के अपराध के लिये संगसारी है शरई कानून में.

    उत्तर देंहटाएं
  2. मुसलमानों की मक्कारी इस बात से पता चलती है कि वह बलात्कारी के लिए ऐसी सजा (संगसारी ) की बात कर रहे हैं , को कुरान में नहीं लिखी है .मुस्लिम देशों में जिना यानी व्यभिचार के लिए ऐसी सजा दी जाती है . इस्लाम में बलात्कार (Rape ) कोई गुनाह नहीं है .मुहम्मद ने खुद जुबैरिया के साथ बलात्कार किया था ,

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. मुहम्मद सल्लल्लाहु ने एक बेसहारा औरत से शादी करके उसको सहारा दिया निकाह करके ।

      पत्नी और पति के रिश्ते से तुम लोग परेशान हो ।

      उधर ब्रहमा अपनी सगी बेटी से बलात्कार करता है वो तुम्हें नहीं दिखाई देता ।

      कृष्ण अपनें ही लिंग से पैदा हुई राधा से इश्क लडाता है ।तुम्हें वो दिखाई नहीं देता ।

      वेदों का इन्द्र अहिल्या नामक नारी का जबरदस्ती बलात्कार करता है , वो तुम्हें दिखाई नहीं देता ?

      उधर विधा की देवी सरस्वती अपने ही पिता से संभोग करती है , वो तुम्हें दिखाई नहीं देता ।

      उधर मनु अपनी ही सगी बेटी से शादी करके संभोग करता है तुम्हें वो दिखाई नहीं देता ।

      वाह ! किया अजीब अक्ल के अंधे हो तुम लोग ।

      इस्लाम की दुश्मनी मे अंधविश्वासी बिलकुल अंधे हो चूके हैं ।

      हटाएं
  3. तुम कुरान की एक भी ऐसी आयत दिखा दो जिसमे संगसारी का हुक्म लिखा हो .तब कमेन्ट करने की हिम्मत करना .

    उत्तर देंहटाएं
  4. islam kay papion dawara apne papo ko chipane le liyae banaya gaya tha,apke bislesan se to yahi lagta hai,hum apni rakcha in papion se kaise kare,ye to hamere charo or hain......

    उत्तर देंहटाएं
  5. Mera challenge hai mohan bhai tum khud islam ki study karo tumhara khayal change hoga

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आँखों के अंधे ऐ मेरे दोस्त, तू पहले इस site को खोलकर अच्छी तरह से पढ़, इसे लिखने वाला कोई हिन्दू,ईसाई या यहूदी नहीं,बल्कि ईरान जैसे कट्टर मुस्लिम देश का एक बुद्धिमान Ex मुसलमान है, जिसने आँखें मूंदकर इस्लाम की बेहद बेहूदी, बेतुकी, और हिंसक बातों को मानने से इनकार कर दिया और इस्लाम को थूक कर त्याग दिया , और अपने जीवन का मकसद ही बना लिया , बुद्धिमान मुस्लिमों को इस्लाम से बाहर निकालने का, उसके अत्यंत प्रभावशाली इस site को पढ़कर हजारों की तादाद में विवेकशील बुद्धिमान मुस्लिम इस्लाम त्याग रहे हैं : http://www.faithfreedom.org/ इसे तू ध्यान से पढ़, हो सकता है तेरी भी आँखें खुल जाए और तू मुहम्मद नाम के दुनिया के सबसे बड़े मुर्ख, हत्यारे,बलात्कारी, लुटेरे द्वारा धकेले गए गहरे कुएं से बाहर निकल आये, तू गहरे कुए के मेढक से इंसान में तब्दील हो जाये !

      हटाएं
    2. आँखों के अंधे ऐ मेरे दोस्त, तू पहले इस site को खोलकर अच्छी तरह से पढ़, इसे लिखने वाला कोई हिन्दू,ईसाई या यहूदी नहीं,बल्कि ईरान जैसे कट्टर मुस्लिम देश का एक बुद्धिमान Ex मुसलमान है, जिसने आँखें मूंदकर इस्लाम की बेहद बेहूदी, बेतुकी, और हिंसक बातों को मानने से इनकार कर दिया और इस्लाम को थूक कर त्याग दिया , और अपने जीवन का मकसद ही बना लिया , बुद्धिमान मुस्लिमों को इस्लाम से बाहर निकालने का, उसके अत्यंत प्रभावशाली इस site को पढ़कर हजारों की तादाद में विवेकशील बुद्धिमान मुस्लिम इस्लाम त्याग रहे हैं : http://www.faithfreedom.org/ इसे तू ध्यान से पढ़, हो सकता है तेरी भी आँखें खुल जाए और तू मुहम्मद नाम के दुनिया के सबसे बड़े मुर्ख, हत्यारे,बलात्कारी, लुटेरे द्वारा धकेले गए गहरे कुएं से बाहर निकल आये, तू गहरे कुए के मेढक से इंसान में तब्दील हो जाये !

      हटाएं
  6. maader chodou dilhe me ji bechari ladki ke saath bus me gang rape hua tha bhoosdi ke wo sab hindu thae unme ekk bhi musal maan nahi thaa saloo jaahil ager mane tumhare davi davtauo ke baarei me likhna shuru kar diya tuo tum haari ? bas samajh ja tum samajh daar ho

    उत्तर देंहटाएं
  7. सुनो ब्रह्मणोँ के बनाये कठपुतले भगवानो के कारनामे उनकी रची ग्रंथ शिवपुराण के अनुसार:
    जब ये दुनिया ब्रह्मांड यानी कुछ भी नही था भगवान भी नही थे तो केवल एक आदि शक्ति (स्त्री)थी आदि शक्ति ने सबसे पहले ब्रह्मा भगवान को बनाया और अपने साथ संबंध बनाने को कहा ब्रह्मदेव ने कहा आपने मुझे बनाया है आप मेरी माँ लगेंगी मै आपके साथ संबंध नही बना सकता क्रोधित होकर आदि शक्ति ने ब्रह्मा भगवान को जलाकर भस्म कर दिया
    फिर आदि शक्ति ने विष्णु को बनाया और खुद के साथ संबंध बनाने को कहा लेकिन विष्णु ने भी कहा की आपने मुझे बनाया आप मेरी माँ हो मै आपसे संबंध नही बना सकता क्रोधित होकर आदि शक्ति देवी ने विष्णु को भस्म कर दिया
    फिर आदि शक्ति ने शंकर भगवान को बनाया और ... संबंध बनाने को कहा शंकर ने ब्रह्मा विष्णु के बारे मे जाना और सोचे की मै इनकार करुंगा तो मुझको भी जला कर भष्म कर देगी शंकर भगवान बोले आप मेरी माँ लगोगी फिर भी मै संबंध बनाने को तैयार हूँ लेकिन मेरी तीन शर्ते हैँ आदि शक्ति ने कहा बताओ शंकर ने कहा पहले मेरे दो भाइयोँ ब्रह्मा विष्णु को जीवीत करो फिर अपना रुप चेंज करो और तीन रुप मे आओ और हम तीनो सेशादी करो फिर संबंध बनाओ आदि शक्ति ने शर्त मंजुर कर लिया फिर क्या था तीनो महापापी भगवानो ने अपनी माँ जो तीन रुपोमे बंटी थी उससे विवाह कर लिया जब ब्रह्मणो के रचे भगवान इतने नीच थेतो ब्रह्मण लोग कितने नीच होंगेँ
    1) देखो ये ब्रह्मणोँ का ढकोसला क्या कहानी फिट किया पहले तो ब्रह्मांड की मालिक आदि शक्ति बना दिया फिर अपने बनाये भगवान लोग का कनेक्शन भी उससे फिट कर दिया
    2) आदि शक्ति को तीन रुपो मे विभाजित करने के बाद भी केवल उमा देवी यानी शिव की पत्नी को हीँ आदि शक्ति का दर्जा देना शुरु कर दिया बाद मे उमा देवी यानी तथाकथित आदि शक्ति को भी एक कहानी बनाकर यज्ञ मे भस्म करवा दिया और फिर पार्वती देवी का जन्म के बाद उसको आदिशक्ति का जन्म कह दिया और बाद मे पार्वती का कनेक्शन शँकर से फिट कर दिया
    3)कुल मिलाकर आदिशक्ति को ही कहानी मे मार डाला गया और शंकर विष्णु ब्रह्मा को महान और सर्वश्रेष्ठ भगवान बना दिया क्या बकवास कहानी बना दिया।
    मुझे झुंठ बोलने की बिल्कुल आदत नही है मेरे दोस्तो यकिन नही आये तो शिवपुराण को ठिक से पढोपहले जानो फिर मानो आँखबंद करके किसी बात का भरोसा नही किया जाता इसलिये शिवपुराण पढो खुद सच पता चल जायेगा
    दोस्तो पोस्ट पंसद आये तो सेयर जरुर करे

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. soch ke neech aadmi soch badlo

      हटाएं
    2. Abe gavaar Tu jaake khud padh nahi samajh aaye to mujhse bolna me pada duga or gaandu Teri gaanf me dam ho to shlok ke sath saboot de ham log ache se jante hai hamare dharm me kya likha hai

      हटाएं
  8. sale haramkhor dilli me jo gang rap hua wo sab hindu the .aur aasaram ko dekhle sale .islami kanoon se saja india me di jane lagi to yahan ka sara crime khatm ho jayega.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. han ji jara ye pata kare kis desh me balatkaar jaada hota hai

      हटाएं
  9. ब्रहामणोँ के सर्वोच्च देवता ब्रहमा जिससे ब्रहामणोँ का जन्म भी हुआ के विषय मेँ कुछ रोचक जानकारी
    -भविष्य पुराण मेँ लिखा है कि ब्रहमा के वीर्य से 88 हजार ऋषियोँ का जन्म हुआ औरउस वीर्यका कुछ भाग एक मछली सटक गई उसके अदंर से कवि नारायण(मछेँद्रनाथ) का जन्म हुआ।
    ब्रहमाके वीर्य का कुछ अंश रेवा नदी के किनारे जा गिरा जिससे चमस नारायण उत्पन्न हुए।
    उसी वीर्य का कुछ भाग एक नागिन ने खाया जिसके अंडे से अविहोत्र नारायण(नागनाथ)का जन्म हुआ।
    पार्वती कोशादी के मंडप मेँ देखकर ब्रहमा का वीर्यपात हो गया।
    उस वीर्य को ब्रहमाने पैरोँसे चारोँ ओरपथ्वी पर गिरा दिया।उस वीर्य से 60 हजार बाल खिल्द ऋषियोँ का जन्म हुआ।
    हिमालय पर अपनी पुत्री को देखकर ब्रहमा का वीर्य धरती पर जा गिरा वीर्य का कुछ भाग एक हाथीके कान मेँ जा गिरा जिससे प्रबुद्ध नारायण का जन्म हुआ।
    कोई महामूर्ख ही इन बातोँ पर विश्वास करेगा......
    नोट: कोई भी वयकती बेहस करने से पेहले भवीषय पुराण मे ईसकी पुषठी कर ले

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. ji aap sahi hai par prakrat aur purush granth ka addyan kare aap ki sankeerd soch khatm hogi

      हटाएं
  10. "इस देश में लाखों चतुर्वेदी, त्रिवेदी, द्विवेदी ,वेद,दीक्षित,
    उपाध्याय, मिश्र, तिवारी, शर्मा, आदि हैं....
    किन्तु देश को न तो सही ज्ञान है न
    सही दिशा का भान ...बस अभिमान है....!!!
    इस देश में करोड़ों सिंह हैं ...करोड़ों प्रताप हैं पर काबुल कंधार
    से कुछ सौ घुड़सवार मुग़ल आये और भारत के इन सिंह और
    प्रतापों की मूंछे उखाड़ कर ले गए ...
    कुछ इनके जीजा बन गए...देश गुलाम बन गया ... जबाव
    देही किसकी थी ?
    ब्राम्हण ज्ञान देने में असफल रहा
    और क्षत्रीय रक्षा करने में ...
    अब चाटो अपनी महान संस्कृति का च्यावंनप्राश ...
    यह आधुनिक भारत की तश्वीर ...
    यह विश्वविद्यालयों की इमारतें ...
    यह देश की राक्तसिराओं सी सड़कों काजाल ... यह
    रेलवे ...
    यह स्टेशन ...यह विधानसभाओं की, संसद की..
    इमारतें ...यह
    राष्ट्रपति भवन ...यह अदालतें ...यह
    अदालतों की इमारतें ...क्षत्रीय राजाओं ने
    नहीं या तो मुगलों ने बनवाई हैं या अंग्रेजों ने ...
    महत्व- मरीचिका से उबरो वर्तमान में राष्ट्र निर्माण
    में
    अपनी भूमिका तलाशो वरना पांडित्य और पराक्रम
    की चर्चा करता भारत "प्रताप" पर संताप करता फिर
    से गुलामी की और बढ़ रहा है ."

    मे जानता हु मेरी ये बात ऐन्टीनाधारीयो को अफीम के नशे की तरह चड गई होगी और हर बार की तरह ईस बार भी अपनी वैदीक संस्कुरुती का प्रद्रशन करेगे
    पर यही हकीकत है
    दोस्तो सेयर करे और जाितवाद का जेहर हर समाज मे से नीकाल फेके
    ताकी देश तरक्की की और बड सके

    उत्तर देंहटाएं
  11. Mulle Teri bhn a chod dunga Randy ke

    उत्तर देंहटाएं